NHPC Blog

अंक की तस्वीर ( अंक : 23 )

[ चित्र आभार : पूजा सुन्डी, प्रबंधक (पर्यावरण), निगम मुख्यालय ]     भारतीय हाथी : जिम कॉर्बेट राष्ट्रीय उद्यान, रामनगर, उत्तराखंड   स्थिति: संकटग्रस्त जनसंख्या : 20,000 – 25,000 वैज्ञानिक नाम : एलीफस मैक्सिमस इंडिकस (Elephas maximus indicus) ऊंचाई : 6-11 फीट (कंधे तक) वज़न: 5 टन लंबाई: 21 फीट तक निवास: उपोष्णकटिबंधीय चौड़ी पत्ती वाले वन, उष्णकटिबंधीय चौड़ी पत्ती वाले नम वन, शुष्क वन, घास के मैदान (Subtropical broadleaf forest, tropical broadleaf moist forest, dry forest, grassland)   हाथी भारत के साथ-साथ पूरे एशिया में एक सांस्कृतिक प्रतीक है। ये समूह में रहना पसंद करते हैं तथा अपनी सामाजिक संवेदना एवं बुद्धिमता (intelligence) के कारण प्राणिजगत में इनका खास स्थान है। भारतीय हाथी का मुख्य भोजन घास होता है, लेकिन बड़ी मात्रा में ये पेड़ों की छाल, जड़ें, पत्तियां और छोटे तने भी खाते हैं। कृषि फसलें जैसे केले, धान, गन्ना आदि भी इनके पसंदीदा भोजन हैं। प्रतिदिन भोजन करते हुए एवं अपने आवास के एक बड़े क्षेत्र में घूमते हुए ये गोबर का उत्पादन करते हैं, इससे अंकुरित बीजों को फैलाने में मदद मिलती है। इस तरह ये अपने जंगल तथा घास के मैदानों के आवास की अखंडता को बनाए रखने तथा  पारिस्थितिकी तंत्र (ecosystem) में संतुलन ...

Category:  Environment


 |    May 15, 2024

काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में जंगल सफारी

[ Picture Source : विशाल शर्मा, समूह वरिष्ठ प्रबंधक (पर्यावरण)]     काजीरंगा नेशनल पार्क, डिब्रूगढ़ से 235 km एवं गुवाहाटी से लगभग 220 km की दूरी पर है । जोरहाट रेलवे स्टेशन से इसकी दूरी 90 km है। काजीरंगा नेशनल पार्क की यात्रा मैंने परिवार के साथ डिब्रुगढ़ से शुरू की। डिब्रूगढ़, रेल एवं वायु मार्ग द्वारा देश के विभिन्न हिस्सों से जुड़ा हुआ है। डिब्रूगढ़ से काजीरंगा नेशनल पार्क टॅक्सी एवं बस से जाया जा सकता है। काजीरंगा नेशनल पार्क असम के गोलाघाट, नगाँव और शोणितपुर जिलों में स्थित है। डिब्रूगढ़ से सुबह 10 बजे निकलने पर हम 4 बजे तक काजीरंगा नेशनल पार्क के कोहोरा रेंज पहुँच चुके थे जहाँ एक रेस्ट हाउस में हमारे ठहरने की व्यवस्था थी। रेस्ट हाउस के माध्यम से हमने सुबह 6 से 7 बजे के लिए कोहोरा रेंज से एलिफ़ेंट सफारी के लिए बुकिंग की। उसी दिन के लिए हमने बागोरी रेंज से जीप सफारी के लिए 10 बजे से 12 बजे के लिए बुकिंग की ।   काजीरंगा का एक संरक्षित क्षेत्र के रूप में इतिहास वर्ष 1904 से प्रारंभ होता  है, जब मेरी कर्ज़न, जो तत्कालीन भारत के वायसराय लॉर्ड कर्ज़न की पत्नी थीं, ने क्षेत्र का दौरा किया। जिस ...

Category:  Environment


 |    May 15, 2024

महुआ – भारत की जनजातीय आबादी के लिए वरदान

Picture Source : https://www.aranyapurefood.com/blogs/news/mahua-tree-kalpvriksra-of-tribal-area https://www.sourcedjourneys.com/post/the-tree-of-life http://anyflip.com/zptxm/ambt   मधुका लॉन्गीफोलिया अथवा इंडियन बटर ट्री जिसे सामान्य भाषा में महुआ कहते हैं सैपोटेसी परिवार का एक महत्वपूर्ण वृक्ष है । यह वृक्ष मध्य भारतीय राज्यों की जनजातीय आबादी के लिए सामाजिक तथा आर्थिक रूप से अत्यंत महत्वपूर्ण है । भारत में यह वृक्ष मुख्य रूप से पश्चिमी, मध्य तथा दक्षिणी भारत के अर्ध-पर्णपाती शुष्क वनों में पाया जाता है तथा इसका विस्तार मुख्यतः आंध्र प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़, गुजरात, झारखंड, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में है । यह एक बहुउद्देशीय वृक्ष है जिससे भोजन, ईंधन, लकड़ी, हरित खाद, तेल, खली, शराब प्राप्त होती है तथा यह अनेक उत्पादों के लिए कच्चा माल उपलब्ध कराता है।   वृक्ष विवरण महुआ एक मध्यम से बड़े आकार का पर्णपाती एवं तीव्रता से बढ़ने वाला वृक्ष है जिसकी ऊँचाई 20-25 मीटर तक हो सकती है। इसकी लकड़ी कठोर से अति कठोर श्रेणी की होती है जिसमें सैपवुड की मात्रा अधिक होती है तथा हार्डवुड भूरे-लाल रंग की होती है । पत्तियाँ जो शाखाओं के सिरों के पास एकत्रित होती हैं, अण्डाकार या लंबाकार-अण्डाकार, चिकनी तथा रोमरहित होती हैं। युवा पत्तियाँ गुलाबी-लाल और निचली सतह पर रोमिल होती हैं। फूल सफेद-क्रीम रंग के तथा ट्यूबुलर ...

Category:  Environment


 |    May 15, 2024

रोडोडेंड्रोन नीवियम (Rhododendron niveum)- सिक्किम का राज्य वृक्ष

[ Picture Source : https://www.treesandshrubsonline.org/articles/rhododendron/rhododendron-niveum/ ]   स्थानीय नाम: ह्युनपाटे गुरांस परिवार: एरिकेसी कॉमन नाम: रोडोडेंड्रोन (इंग्लिश); बुरांस (कुमाऊनी); गुराँस (नेपाली) पाया जाता है: 3000-3700 मीटर की ऊंचाई पर IUCN स्थिति: गंभीर रूप से लुप्तप्राय (Critically Endangered (CR))   रोडोडेंड्रोन नीवियम का स्थानीय नाम से ह्युनपाटे गुरांश है। मूल रूप से यह  केवल उत्तरी सिक्किम में लाचुंग के ऊपर शिंगबा रोडोडेंड्रोन अभयारण्य के आसपास पाया जाता था। यह सिक्किम की संस्कृति की खूबसूरती,  सुघड़ता और दृढ़ता का प्रतिनिधित्व करता है इस लिए इसे सिक्किम के ‘राज्य वृक्ष’ होने का का दर्जा  प्राप्त है।   रोडोडेंड्रोन नीवियम के विषय में: रोडोडेंड्रोन नीवियम या Bell Snow Rhododendron एक छोटा पेड़ है जो 2-6 मीटर तक ऊँचा होता है। इसमें अनोखे धुएँ के रंग के नीले या बैंगनी- मॉव रंग के फूल होते हैं और पत्तियों के निचले हिस्सों में बर्फ के समान सफेद रंग होता है। नीवियम रोडोडेंड्रोन की प्रजाति का नाम लैटिन शब्द “निवेस” से लिया गया है जिसका अर्थ बर्फीला या बर्फ जैसा सफेद।  इस पौधे के फूल गोलाकार घने 15-20 के गुच्छे में लगते हैं, जिनके बीच में पीला मखमली रंग होता है। फूल अप्रैल-मई में आते हैं और फल जुलाई के माह मे । युवा अंकुर भूरे हरे, ...

Category:  Environment


 |    May 15, 2024

ईएसजी रिपोर्टिंग में डाटा प्रबंधन की भूमिका

[ Picture Source : https://community.nasscom.in/communities/ai/how-ai-can-help-esg-data-standardization-bfsi ]   पर्यावरणीय (Environmental), सामाजिक (Social) और गवर्नेंस (Governance) अर्थात  ‘ईएसजी रिपोर्टिंग’ एक मापदंड है जिसका उपयोग किसी कंपनी के व्यावसायिक कार्यप्रणाली की स्थिरता (Sustainability) को प्रभावी करने वाले मूल गैर-वित्तीय तत्वों के प्रदर्शन (परफॉर्मेंस) का मूल्यांकन करने के लिए किया जाता है। यह व्यावसायिक जोखिमों और अवसरों को मापने का तरीका भी प्रदान करता है। पूंजी बाजारों में कुछ निवेशक कंपनियों का मूल्यांकन करने और निवेश योजनाओं को निर्धारित करने के लिए ईएसजी रिपोर्ट का उपयोग करती हैं। ईएसजी रिपोर्ट में प्रदान किए गए विवरणों से निवेशकों को कंपनियों की पहचान करके निर्णय लेने में सक्षमता प्राप्त होती है। इस रिपोर्टिंग या प्रदत्त विवरणों से कंपनी को अपनी कार्य-प्रणाली में मौजूद अच्छाई व कमी का भी आकलन करने में सहजता होती है एवं मूल्यांकन के आधार पर यदि आवश्यकता हो तो समय रहते सुधार किया जा सकता है।   कंपनी की ‘ईएसजी (ESG) रिपोर्टिंग’ के लिए ‘ग्लोबल रेपोर्टिंग इनिसिएटिव (जीआरआई)’ स्टैंडर्ड एवं सेबी (SEBI) के निर्धारित फ़ारमैट में ‘ईएसजी (ESG) के प्रमुख कारक व संकेतक के बारे में वित्त-वर्ष के अनुसार वृहद डाटा की आवश्यकता होती है।  इस डाटा के विश्लेषण व विवेचना के अनुसार कंपनी की Sustainability Report एवं बीआरएसआर तैयार किया जाता ...

Category:  Environment


 |    May 15, 2024

तीस्ता VI जलविद्युत परियोजना द्वारा पर्यावरण स्वच्छता के अंतर्गत फोगिंग कार्यक्रम का आयोजन

तीस्ता-VI जलविद्युत परियोजना द्वारा दिनांक 30.04.2024 को पीएम श्री राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय एवं राजकीय प्राथमिक विद्यालय, सिंगताम, जिला-गंगटोक, सिक्किम में मलेरिया एवं डेंगू जैसी बीमारियों एवं जहरीले कीटों से बचाव हेतु फोगिंग किया गया।   कार्यक्रम के अंतर्गत विद्यालय के सभी कक्षाओं एवं परिसर में फोगिंग किया गया। इस आयोजन के लिए विद्यालय के प्रधानाचार्य एवं शिक्षकों ने एनएचपीसी का आभार व्यक्त किया एवं इसकी प्रशंसा की। उन्होंने भविष्य में इस प्रकार के कार्यक्रम के आयोजन की आशा व्यक्त की।

Category:  Environment


 |    May 15, 2024

अंक की तस्वीर

एनएचपीसी लिमिटेड की ओर से पर्यावरण एवं विविधता प्रबंधन विभाग तथा नेशनल रिमोट सेंसिंग सेंटर (एनआरएससी), हैदराबाद के मध्य "अंतरिक्ष चित्र आधारित ग्लोफ अध्ययन" के लिए अनुसंधान एवं विकास परियोजना के तहत दिनांक 20.03.2024 को एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। इस अवसर पर एनएचपीसी ओर से श्री रजत गुप्ता, कार्यपालक निदेशक (पर्यावरण व विविधता प्रबंधन), डॉ. अविनाश कुमार , महाप्रबंधक (पर्यावरण), श्री राजीव रंजन प्रसाद, उप- महाप्रबंधक (पर्यावरण) तथा श्री अमित भदुला, प्रबंधक (पर्यावरण) उपस्थित थे। एनआरएससी की ओर से डॉ. प्रकाश चौहान, निदेशक, डॉ. के श्री निवास, उप निदेशक, डॉ. पी वी राजू, समूह निदेशक (जल संसाधन), डॉ. एम सिम्हाद्री, वैज्ञानिक-जी, श्री अब्दुल हकीम, वैज्ञानिक-जी, श्री के चंद्रशेखर, वैज्ञानिक-जी तथा श्री सक्षम जोशी, वैज्ञानिक-डी उपस्थित थे।

Category:  Environment


 |    April 5, 2024

ESG Rating of NHPC

NHPC Limited had actively participated in S&P Global Corporate Sustainability Assessment (CSA) Survey (Dow Jones Sustainability World index) for the methodology year 2023. The CSA survey Form was submitted at the web portal of S&P Global in January 2024 for ESG rating of NHPC. Based on CSA analysis, NHPC has achieved S&P Global ESG Score of 48 (March, 2024). ESG Score is available on the website of S&P Global (https://www.spglobal.com/esg/solutions/data-intelligenceesg-scores).   Earlier, S&P Global had provided ESG Score of 17 to NHPC (November, 2022) based on publically available information. Enhanced ESG score of NHPC will improve the brand image, open access to new investors and improve transparency & operational efficiency.It is also to inform that the 1st Sustainability Report for FY 2021-22 of NHPC is available on the website of NHPC under the Tab: Sustainability. The preparation of Sustainability Report for FY 2022-23 is under progress in EDM Division.

Category:  Environment


 |    April 5, 2024